Vijay Mallya Relationship Arun Jaitley: शराब कारोबारी विजय माल्या जो भारतीय बैंकों से 9000 करोड़ रुपए से अधिक का कर्ज लेकर लंदन भागे थे! उनका हल ही में एक बयान समने आया है! जिसमे उन्होंने कहा है की वह भारत छोड़ने से पहले वित्त मंत्री अरुण जेटली से मिले थे! वह उस समय जेटली से बात करके मामला को संभालना चाहते थे!

उन्होंने ये बातें ब्रिटेन के लंदन में स्थित वेस्टमिंस्टर मजिस्ट्रेट कोर्ट के बाहर आकर बुधवार (12 सितंबर) को कहीं! विजय माल्या के बोलने के अनुसार, “भारत छोड़ने से पहले मैं वित्त मंत्री से मिला था! मेरे पास तब मामला रफा-दफा करने वाले कुछ कागजात भी थे, जिन पर बैंकों ने आपत्ति जताई थी!”

अरुण जेटली ने बताया अपने आप को बेकसूर

Vijay Mallya Relationship Arun Jaitley

जब जेटली से इस बारे में पूछा गया तो उन्होंने विजय माल्या की इन बातो को बेबुनियाद बताया! अपने आप को बेकसूर बताते हुए उन्होंने कहा

“माल्या का बयान पूरी तरह से गलत है! हमारी मुलाकात संसद में हुई थी! साल 2014 के बाद से मैंने उन्हें मिलने का वक्त ही नहीं दिया। ऐसे उनसे मेरे मिलने का सवाल ही पैदा नहीं होता है!”

Vijay Mallya Relationship Arun Jaitley

विजय माल्या को क्यों जाना पड़ा लंदन

विजय माल्या ने रिपोटेरो से बात करते हुए कहा,

“मैं देश छोड़कर तब इसलिए गया था, क्योंकि मुझे जेनेवा में एक बैठक में जाना था! जाने से पहले मैं वित्त मंत्री से मिला था ! मैंने बैंकों से मामला सलटाने की बात दोहराई थी! यही सच है!”

अभी हल ही की रिपोेर्ट क अनुसार विजय माल्या फर्जीवाड़े और मनी लॉन्डरिंग के मामले हाई कोर्ट में चल रहे हैं! उन पर 9000 करोड़ रुपए से अधिक का कर्ज लेकर लंदन भाग जाने का केज दर्ज है!

विजय माल्या के मामला का निपटने के प्रयास

विजय माल्या ने सुबह लिए हुए बयान में ये कहा था कि कर्नाटक हाईकोर्ट के सामने भी उन्होंने मामला का निपटारा कराने के लिए प्रस्ताव रखा था, जिसमें उन्होंने कर्ज की रकम को चुकाने की बात कही थी! कोर्ट के बाहर उनके वकील ने भी कहा, “इस बात का कोई सबूत नहीं है की विजय माल्या या किंगफिशर ने गलत इरादे की वजहे से बैंकों से लोन मांगा था!”

कांग्रेस को केंद्र सरकार को घेरने का मिला मौका

विजय माल्या की तरफ से इन बयान के सामने आने के बाद कांग्रेस को केंद्र सरकार को घेरने का मौका मिल गया! मुख्य विपक्षी दल और कांग्रेस ने सरकार पर निशाना सधते हुए काहा की , “सरकार को यहे बताना होगा कि विजय माल्या को देश छोड़ने की अनुमति कैसे और किसके कहने पर दी गई?”

ये भी पढ़ें:नरेंद्र मोदी और राहुल गांधी में कौन है देश के लोगों की पहली पसंद..


——