Two officers tense Maoists Jammu Kashmir: जम्मू कश्मीर में राज्यपाल शासन लागू होने साथ ही अनुमान लगाया जा रहा है कि सुरक्षाबल आतंकियों और पत्थरबाजों के खिलाफ बड़ा Action लेने की तैयारी में है.

Two officers tense Maoists Jammu Kashmir

इस बात का अंदाजा इससे भी लगाया जा सकता है कि केंद्र सरकार Operation को अंजाम देने वाले officers की तैनाती Jammu kashmir में कर रही है.

Two officers tense Maoists Jammu Kashmir

उनकी यह नियुक्ति डेपुटेशन पर हुई है

Two officers tense Maoists Jammu Kashmir

इसी कड़ी में छत्तीसगढ़ के Additional Chief Secretary (ACS) BVR सुब्रमण्यम को Jammu Kashmir का Chief Secretary बनाया गया है. उनकी यह नियुक्ति deputation पर हुई है. इसके अलावा पूर्व IPS अधिकारी विजय कुमार को राज्यपाल का सलाहकार नियुक्त किया गया है.

सुब्रमण्यम काबिल ऑफिसर माने जाते हैं

केंद्र सरकार की ओर से जारी आदेश में कहा गया है कि सुब्रमण्यम और विजय कुमार जितनी जल्दी हो Jammu Kashmir में Duty Join करें. 1987 Batch के IAS सुब्रमण्यम काबिल officer माने जाते हैं.

Two officers tense Maoists Jammu Kashmir

इनके नाम कई बड़े Operation को सफलता पूर्वक अंजाम तक पहुंचाने का दर्ज है. खासकर नक्सलियों के खिलाफ कई Operation को अंजाम तक पहुंचाया है.

ऑपरेशन का नेतृत्व विजय कुमार ने ही किया था

वहीं विजय कुमार के दिशा-निर्देशन में कई Operation हो चुके हैं. कुख्यात चंदन तस्कर वीरप्पन साल 2004 में मारा गया था. इस Operation का नेतृत्व विजय कुमार ने ही किया था.

Two officers tense Maoists Jammu Kashmir

विजय 1975 में तमिलनाडु cadre के IPS बने थे. वे 1998-2001 में BSF के महानिरीक्षक (IG) के तौर पर Kashmir घाटी में Duty कर चुके हैं.

विजय कुमार को इस बल का डीजी बनाया

Two officers tense Maoists Jammu Kashmir

साल 2010 में छत्तीसगढ़ के दंतेवाड़ा में नक्सली हमले में CRPF के 75 जवानों के शहीद होने के बाद विजय कुमार को इस बल का DG बनाया गया था. विजय कुमार की निगरानी में CRPF नक्सलियों के खिलाफ कई Operation किए. साथ ही नक्सली हरकतों में भी कई आई थी.

मनमोहन सिंह ने यूपीए के पहले कार्यकाल में

Two officers tense Maoists Jammu Kashmir

दिलचस्प बात यह है कि Jammu Kashmir के नए Chief Secretary BVR सुब्रमण्यम पूर्व PM मनमोहन सिंह को काफी पसंद थे. मनमोहन सिंह ने UPA के पहले कार्यकाल में सुब्रमण्यम को अपना निजी सविच नियुक्त किया था. इसके बाद UPA-2 में मनमोहन सिंह ने इन्हें 2012 में फिर से संयुक्त सचिव के पद पर बहाल किया गया थी.

मुस्लिम युवक ने दी पीएम नरेंद्र मोदी को गोली मारने की धमकी, दर्ज हुई FIR..

 

 

——