Last five flags India: 1921 में मान्यता प्राप्त भारत का पांचवां राष्ट्रीय ध्वज को ही थोड़े से बदलाव के बाद आजाद भारत के लिए संविधान सभा ने भारतीय झंडे के रूप में स्वीकार कर लिया! इसमें केवल चरखे की जगह अशोक चक्र को शामिल कर लिया गया, जो आज तक हमारा राष्ट्रीय ध्वज है!

Last five flags India :

भारत का पहला झंडा

Last five flags India

7 अगस्त 1906 में Calcutta के पारसी बगान Square में ये पहला भारतीय झंडा फहराया गया था!

भारत का दूसरा झंडा

Last five flags India

भारत का दूसरा झंडा 1907 में Madame Cama और निर्वासित क्रांतिकारियों और उनके संगठन ने
paris में फहराया था!

भारत का तीसरा झंडा

Last five flags India

 

1917 में Home Rule Movement के दौरान इस भारतीय झंडे को Dr. Annie Besant and Lokmanya Tilak ने फहराया था!

भारत का चौथा झंडा

 

भारत के इस चौथे झंडे को Pingali Venkaiah ने देश को एकजुट करने के लिए 1916 में बनाया था! इस झंडे में गांधी जी ने चरखे का चित्र बनवाया था, और इसे गांधी जी ने 1921 में फहराया था!

भारत का पाचवां झंडा

Last five flags India

भारतीय राष्ट्रीय Congress Committee की बैठक में इस तिंरगे झंडे को 1921 में राष्ट्रीय ध्वज के रूप में मान्यता दी गयी!

भारत का छठा और आखरी राष्ट्रीय ध्वज

Last five flags India

1921 में मान्यता प्राप्त भारत का पांचवां राष्ट्रीय ध्वज (National Flag) को ही थोड़े से बदलाव के बाद आजाद भारत के लिए संविधान सभा ने भारतीय झंडे के रूप में स्वीकार कर लिया!

और पढ़े: 15 अगस्त से देश में लागू हो चुके हैं ये 8 नए नियम और चीज़े, जरुर पढ़ें..

——