Aadhaar Saved India’s 90,000 Crore भारत सरकार ने आधार से जुड़ी प्रत्यक्ष लाभ अंतरण (DBT) प्रणाली के जरिए अब तक 90,000 करोड़ रुपए बचा लिए हैं। UIDAI के अध्यक्ष जे. सत्यनारायण ने ‘Digital पहचान’ पर आधारित एक अंतर्राष्ट्रीय सम्मेलन को संबोधित करते हुए यह कहा! उन्होंने बताया कि औसतन लगभग 3 करोड़ लोग आधार का उपयोग प्रतिदिन करते हैं! उन्होंने कहा इसका उपयोग मुख्य रूप से राशन, पेंशन, ग्रामीण रोजगार, छात्रवृत्ति में हुआ है!

Aadhaar Saved India’s 90,000 Crore : UIDAI Chairman

Aadhaar Saved India's 90,000 Crore : UIDAI Chairman

अदृश्य शासन की परिकल्पना की ओर बढ़ रहा देश

Aadhaar Saved India's 90,000 Crore : UIDAI Chairman

सत्यनारायण ने अपने संबोधन में कहा कि इसी साल 31 मार्च तक सार्वजनिक वितरण प्रणाली (PDS), Petroleum और प्राकृतिक गैस विभाग, खाद्य एवं लोक वितरण, ग्रामीण विकास और अन्य विभागों की कई जरूरी योजनाओं के लिए Aadhar Number से जुड़ी DBT व्ययवस्था अपनाकर 90,000 करोड़ रुपयों से ज्यादा के राजस्व की बचत तथा आय हुई है!

आधार में अभी और सुधार की जरूरत

Aadhaar Saved India's 90,000 Crore : UIDAI Chairman

UIDAI के अध्यक्ष उन्होंने कुछ क्षेत्रों में शोध कराने की जरूरत पर जोर दिया! उन्होंने कहा कि हमें अधिक कुशल Biometric mechanism, आधार Eco System, नामांकन प्रक्रिया में सुधार, अपडेशन और प्रमाणीकरण, कम Network वाले क्षेत्रों में कार्यान्वयन और धोखाधड़ी का पता लगाने और उसकी रोकथाम के लिए कृत्रिम बुद्धिमत्ता (Artificial Intelligence) तथा Machine Learning का उपयोग करने के लिए शोध करने की जरूरत होगी!

Indian School of Business में आधार पर विशेष जोर

Aadhaar Saved India's 90,000 Crore : UIDAI Chairman

बुधवार को शुरू हुए 3 दिवसीय सम्मेलन का आयोजन Indian School of Business (ISB) ने किया है! सम्मेलन में ‘Aadhar‘ पर विशेष ध्यान दिया गया है! सम्मेलन का उद्देश्य ISB में ‘Digital Identity Research Initiative‘ (Dry) द्वारा किए गए शोध कार्यो का प्रदर्शन करना है! Dry का शोध मुख्य रूप से आधार को ध्यान में रखकर तथा पारिस्थितिकी तंत्र के लाभ और नुकसान का पता लगाने पर निर्भर है!

सनी लियोनी ने किया खुलासा, कैसे बनी करनजीत से सनी?

 

 

 

——

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here